RJD की झारखंड प्रदेश कमेटी भंग: प्रदेश अध्यक्ष और महासचिव की खींचतान पटना पहुंचने के बाद लिया गया फैसला, नई टीम बनेगी


रांची32 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

तेजस्वी की झारखंड में सक्रियता बढ़ने के साथ ही राज्य में पार्टी का अंदरुनी कलह बढ़ गया। नतीजा झारखंड में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रदेश स्तर की सभी कमेटियों को भंग करना पड़ा। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अब्दुल बारी सिद्दिकी ने इससे संबंधित अधिसूचना जारी कर दी है।

माना जा रहा है कि संगठन के भीतर आपसी खींचतान और कमजोर होते संगठन काे देखते हुए यह फैसला लिया गया है। RJD सूत्रों की मानें तो गुरुवार को पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव नए प्रदेश अध्यक्ष की घोषणा कर सकते हैं।

अब्दुल बारी सिद्दकी ने बताया है, ‘राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश के बाद ही यह निर्णय लिया गया है। दल काे पुनर्गठित कर इसे ज्यादा से ज्यादा मजबूत करने की रणनीति बनाई जा रही है। इसी वजह से कमेटियों काे भंग किया गया है। कुछ पूर्व विधायकों और पुराने नेताओं की शिकायत पटना तक पहुंची थी।’

महासचिव को पार्टी से निकालने के बाद बढ़ा विवाद

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की तरफ से एक सप्ताह पहले 4 लोगों को निकाला गया था। इसमें प्रधान महासचिव सह पूर्व विधायक संजय प्रसाद यादव भी शामिल थे। अगले ही दिन उन्होंने चिट्ठी जारी कर दिया कि वे पूर्व की भांति पद पर बने रहेंगे। इन घटनाओं पर पार्टी के कुछ नेताओं ने पहले भी यह संकेत दिया था कि प्रदेश RJD में व्यापक फेरबदल होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here