Magdalena Andersson: स्वीडन की पहली महिला PM बनने के कुछ घंटों में ही गई मेगडालेना एंडरसन की कुर्सी


स्टॉकहोम. स्वीडन (Sweden) की पहली महिला प्रधानमंत्री मेगडालेना एंडरसन (Magdalena Andersson) को पद संभालने के कुछ ही घंटे बाद इस्तीफा देना पड़ा. संसद में बजट प्रस्ताव पर एंडरसन की सरकार को हार का सामना करना पड़ा. इसके बाद दो दलों की उनकी अल्पसंख्यक सरकार से एक दल अलग हो गया. मेंगडालेन को बुधवार को ही सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी की नई नेता चुना गया था. उन्हें स्टीफन लोफवेन (Stefan Lofven)की जगह प्रधानमंत्री बनाया गया था. लोफवेन ने इस साल की शुरुआत में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. एंडरसन इससे पहले वित्त मंत्री थीं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मेगडालेना एंडरसन (Magdalena Andersson) ने कहा कि प्रधानमंत्री बनना उनके लिए सम्मान की बात है, लेकिन वह ऐसी सरकार का नेतृत्व भी नहीं करना चाहती हैं, जहां उसकी वैधता को लेकर सवाल उठाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए. अगर उसका एक दल सरकार से अलग होता है. इस तथ्य के बावजूद कि संसद की स्थिति में बदलाव नहीं हुआ है और इसे फिर से आजमाने की जरूरत है.

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने Garlic को बताया अदरक, सोशल मीडिया पर उड़ी खिल्ली

स्वीडन को लैंगिक समानता के मामले में यूरोप के सबसे प्रगतिशील देशों में शुमार किया जाता है, लेकिन अभी तक किसी महिला को देश की बागडोर नहीं सौंपी गई थी (Sweden First Female PM). ऐसे में इस घटनाक्रम को स्वीडन के लिए मील का पत्थर माना जा रहा है. एंडरसन का समर्थन करने वाली निर्दलीय सांसद अमीना काकाबावेह ने संसद में अपने भाषण में कहा, ‘अगर महिलाएं केवल वोट देती रहें और उन्हें सर्वोच्च पद के लिए ना चुना जाए, तो लोकतंत्र पूरा नहीं हो सकता.’

117 सांसदों ने पक्ष में किया वोट
स्वीडन की 349 सदस्यीय संसद में 117 सांसदों ने एंडरसन के पक्ष में जबकि 174 ने विरोध में वोट दिया. 57 सांसदों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया जबकि एक सांसद अनुपस्थित रहा (Sweden Parliament). कुल मिलाकर 174 सांसदों ने एंडरसन के विरोध में मतदान किया, लेकिन स्वीडन के संविधान के अनुसार अगर कम से कम 175 सांसद किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं हैं, तो उसे प्रधानमंत्री नियुक्त किया जा सकता है. एंडरसन को इसी कानून के तहत प्रधानमंत्री बनाया गया था.

क्रूड सप्लाई बढ़ाने पर क्राऊन प्रिंस का बाइडेन को जवाब, ‘US की जरुरत नहीं, डिमांड और सप्लाई पर ध्यान’

नवंबर में पद छोड़ रहे लोफवेन
स्टीफन लोफवेन की बात करें, तो उन्होंने कहा था कि वह नवंबर में अपना पद छोड़ देंगे. साल 2014 से प्रधानमंत्री पद संभाल रहे लोफवेन ने यह भी घोषणा की थी कि वह नवंबर में ही सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रमुख का पद भी छोड़ देंगे. देश में अगले साल आम चुनाव होने वाले हैं (Stefan Lofven Resignation). इस साल की शुरुआत में संसद में बहुमत साबित नहीं कर पाने वाले लोफवेन पहले स्वीडिश नेता हैं. उन्होंने पार्टी को सूचित किया था, ‘मैं नवंबर में पार्टी अध्यक्ष के रूप में अपना पद छोड़ना चाहता हूं और प्रधानमंत्री का पद भी छोड़ना चाहता हूं.’ वह 2012 से पार्टी प्रमुख रहे हैं, जो स्वीडन की सबसे बड़ी पार्टी है और इसके पास वर्तमान में संसद की 349 सीटों में से 100 सीटें हैं.

Tags: Sweden team





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here