फ्रांस से ब्रिटेन जा रहे 31 शरणार्थियों की मौत, इंग्लिश चैनल में डूबी नाव


पेरिस/लंदन. फ्रांस से इंग्लैंड जाने वाली इंग्लिश चैनल (English Channel)को पार करने के दौरान बुधवार को एक नाव डूब गई. इस हादसे में अब तक कम से कम 31 प्रवासियों की डूबने से मौत हो गई है. न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने इसकी जानकारी दी. रॉयटर्स के मुताबिक, घटना कैलिस के उत्तरी बंदरगाह (boat carrying migrants capsized in the English Channel) की है. फ्रांस के आतंरिक मंत्रालय ने बताया कि एक मछुआरों की सूचना के बाद हादसे की जानकारी मिली और रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए फ्रांसीसी गश्ती जहाज भेजे गए. बाकी लोगों की तलाश जारी है.

अधिकारियों ने बताया कि तलाशी अभियान में शामिल होने के लिए तीन हेलीकॉप्टर और तीन नौकाओं को तैनात किया गया है. फ्रांसीसी अधिकारियों के अनुसार, इस साल की शुरुआत से 31,500 लोगों ने ब्रिटेन जाने की कोशिश की है. इनमें से 7,800 लोगों को रेस्क्यू किया गया है. यह आंकड़ा अगस्त से दोगुना हो गया है.

एक बार फिर संकट में अफगानिस्तान, कभी भी ठप हो सकता है बैंकिंग सिस्टम

बुधवार शाम तक संयुक्त रूप से फ्रांस और ब्रिटिश बचावकर्मी जीवित लोगों की तलाश कर रहे थे. यात्री किस देश के नागरिक थे, ये नहीं बताया गया है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने सरकार की आपदा समिति की बैठक बुलाई है और फ्रांस के गृह मंत्री हादसे में जीवित बचे लोगों से अस्पताल में मिलने गए. फ्रांस के गृहमंत्री ने कहा कि इस घटना के संबंध में चार संदिग्ध मानव तस्करों को बुधवार को गिरफ्तार किया गया है.

स्थानीय समुद्री अधिकारियों ने कहा कि मछली पकड़ने के एक जहाज ने उन्हें अलर्ट किया कि कैलाइस के तट से कई लोग खो गए हैं, उन्होंने तुरंत बचाव जहाजों और हेलीकॉप्टरों को भेजा. फिलहाल ऑपरेशन अभी भी जारी है. फ्रांस के समुद्री मामलों के मंत्री एनिक गिरार्डिन ने कहा कि एक ब्रिटिश गश्ती जहाज के साथ-साथ बेल्जियम और ब्रिटिश हेलीकॉप्टरों ने खोज में भाग लिया.

क्षेत्रीय समुद्री प्राधिकरण के प्रमुख फिलिप ड्यूट्रीक्स ने पिछले हफ्ते एक साक्षात्कार में चेतावनी दी थी कि तापमान गिरने के बावजूद पिछले तीन महीनों में इंग्लिश चैनल को पार करने की कोशिश कर रहे छोटे जहाजों की संख्या दोगुनी हो गई है. उन्होंने कहा कि इस साल की शुरुआत से 20 नवंबर तक 31,500 प्रवासियों ने क्रॉसिंग का प्रयास किया था और उनमें से 7,800 को जहाजों के मलबे से बचाया गया था. बुधवार से पहले इस साल अब तक सात लोग मारे गए या गायब हो गए थे.

कांगो के गांव में उग्रवादियों का हमला, कम से कम 18 लोगों की मौत

फिलिप ड्यूट्रीक्स ने कहा कि 130 किलोमीटर के समुद्र तट को पूरी तरह से सुरक्षित करना और सभी प्रवासी जहाजों को क्रॉसिंग का प्रयास करने से रोकना असंभव था. साथ ही उन्होंने तस्करों के सनकीवाद की आलोचना की, जो प्रवासियों को पानी में फेंक देते हैं क्योंकि यह एक लाभदायक व्यवसाय है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

Tags: Migrants





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here